सिमी आतंकियों की न्यायिक हिरासत बढ़ी

रायपुर | संवाददता: रायपुर में पकड़े गए सिमी के कथित 14 आतंकियों को न्यायालय ने 17 जनवरी तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. इससे पहले शहर के अलग-अलग इलाकों से गिरफ्तार सिमी के 14 आतंकियों को शुक्रवार को कड़ी सुरक्षा के बीच न्यायालय में पेश किया गया था.

गौरतलब है कि राजधानी में माहभर पहले सिमी के कथित आतंकवादी उमेर सिद्दीक एवं अजहरुद्दीन को गिरफ्तार किया गया था. रायपुर एटीएस और राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए की पूछताछ में इनसे सिमी के बड़े नेटवर्क का खुलासा हुआ था. पूछताछ में यह भी पता चला था कि बोधगया एवं पटना में किए गए ब्लास्ट में भी इन्हीं आतंकियों का हाथ था.

इनसे मिली जानकारी के आधार पर पुलिस ने शहर से अब्दुल वाहिद, रोशन उर्फ जावेद, अब्दुल अजीज, अजीजुल्लाह, हयाद खान, मोर्इनुद्दीन, शेख, हबीउल्लाह, मो. दाउद, शेख सुभान, मो. असलम, अजरुद्दीन कुरैशी, मो. सईद, शेर अली खान और सलीम अहमद को गिरफ्तार किया गया था.

इन सभी को अभी तक कई बार न्यायिक रिमांड में लेकर पूछताछ की जा चुकी है. दिल्ली से पहुंची एनआईए की टीम ने भी गिरफ्तार किए गए सिमी आतंकियों से पूछताछ की है.

राजधानी में सिमी के बड़े नेटवर्क का खुलासा हुआ है. अब तक सिमी के 17 कथित आतंकी रायपुर में गिरफ्तार हो चुके हैं. आतंकियों के फंड मैनेजर धीरज साव को पिछले दिनों खमतराई क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया था. उसके संपर्क पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन इंडियन मुजाहिदीन से होने की पुष्टि हुई है.

कथित आतंकी रुपए ट्रासफर के लिए उसके खाते का इस्तेमाल करते थे. उसके खाते में 1 करोड़ से अधिक का लेनदेन करने के प्रमाणा मिले है. धीरज को कल न्यायालय में पेश किया गया था.

सूत्रों का कहना है कि गिरफ्तार किए गए कथित सिमी आतंकियों से जो जानकारियां मिली है उस अधार पर आने वाले दिनों में कुछ और आतंकियों की गिरफ्तारी हो सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *