तस्कर लायेंगे 200 टन सोना

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: विश्व स्वर्ण परिषद के एक शीर्ष अधिकारी ने यहां गुरुवार को कहा कि 2014 में देश में करीब 200 टन सोना तस्करी से प्रवेश करेगा. यह देश की कुल मांग का 20 फीसदी होगा. परिषद के प्रबंध निदेशक सोमासुंदरम पी.आर. ने कहा, “2014 में कुल मांग 850-950 टन रहने का अनुमान है, इसके 20 फीसदी से अधिक की आपूर्ति तस्करी से हो सकती है.”

उन्होंने सातवें अंतर्राष्ट्रीय स्वर्ण सम्मेलन के इतर मौके पर यह बात संवाददाताओं से कही. सम्मेलन का आयोजन एसोसिएटेड चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ऑफ इंडिया, एसोचैम ने किया था.


केंद्र सरकार द्वारा सोने के आयात पर आयात शुल्क बढ़ाकर 10 फीसदी कर दिए जाने के कारण तस्करी बढ़ी है.

उन्होंने कहा, “भारत में 22 हजार टन सोना आम लोगों और मंदिरों के पास है, जिसकी कीमत 1000 अरब डॉलर है. सोने के आयात पर भले ही रोक लगा दिया जाए, लेकिन देश में सामाजिक, सांस्कृतिक और आर्थिक कारणों से सोना एक पसंदीदा संपत्ति है.”

उन्होंने कहा, “उम्मीद है कि सोने के आयात पर छोटी अवधि के लिए लगाई गई रोक की समीक्षा की जाएगी और इसे हटाया जाएगा.”

उन्होंने कहा कि बात सोने पर रोक की चर्चा से आगे जानी चाहिए और इस उद्योग के चौमुखी विकास के बारे में सोचा जाना चाहिए.

उन्होंने कहा कि मानसूनी बारिश कम होने के कारण गांवों में सोने की मांग में गिरावट होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!