बेटा संभालेगा विरासत: लालू

सासाराम | समाचार डेस्क: लालू प्रसाद यादव ने भारतीय संस्कृति का हवाला देते हुये कहा है कि उनकी राजनीतिक विरासत उनके बेटे को ही मिलेगी. उल्लेखनीय है कि इससे पहले मंगलवार को राजद के ही सांसद पप्पू यादव ने का था कि लोकतंत्र में उत्तराधिकारी का चुनाव जनता करती है. इससे पहले जब लालू प्रसाद को मुख्यमंत्री का पद छोड़ना पड़ा था तो उन्होंने अफनी पत्नी राबड़ी देवी को मुख्यमंत्री बनवा दिया था. लालू प्रसाद के अपने उत्तराधिकारी की घोषणा करने तथा उससे टीक एक दिन पहले सांसद पप्पू यादव के बयान को जोड़कर देखा जा रहा है. राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी पर झूठ की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा मोबाइल फोन और सोशल मीडिया से झूठ प्रचारित कर देश की जनता को गुमराह किया है. उन्होंने कहा कि राजद में उनके बाद उनका ही बेटा उतराधिकारी होगा. डेहरी के गोपीबिगहा में आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “भारतीय संस्कृति में बेटा ही बाप की विरासत संभालता है. इस कारण मेरे बाद पार्टी का उत्तराधिकारी पप्पू यादव नहीं बल्कि मेरा बेटा होगा. मेरे इस फैसले से जिसे परहेज है, वह पार्टी छोड़कर जा भी सकता है.”

उन्होंने कहा कि समाजवादी दलों के विलय की सिर्फ औपचारिक घोषणा ही बाकी है. यह घोषणा भी जल्द ही की जाएगी.

लालू ने कहा, “सांप्रदायिक ताकत किसी भ्रम में नहीं रहें. देश में झूठ की राजनीति नहीं चलेगी. हम सभी समाजवादी एक मंच पर आएंगे.”

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बहुत गलत समय में प्रधानमंत्री पद की शपथ ली है, यही कारण है कि बिना मौसम के ओले पड़ रहे हैं और बारिश हो रही है.

उन्होंने कहा कि समाजवादी दलों के अलग-अलग रहने के कारण ही आज भाजपा सत्ता में आई है. समाजवादी दलों के एक होने के बाद भाजपा में घबराहट पैदा हो गई है, यही कारण है कि भाजपा के नेता अनाप-शनाप बोल रहे हैं. उन्होंने कहा कि समाजवादी नेता पूरे देश में घूम-घूमकर भाजपा और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की धोखाधड़ी को लोगों के सामने लाएंगे.

उल्लेखनीय है कि राजद के सांसद पप्पू यादव ने मंगलवार को कहा था कि लोकतंत्र में जनता पार्टी उतराधिकारी तय करती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *