वन विभाग में 5 प्रतिशत पद खिलाड़ियों को

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में वन विभाग द्वारा भविष्य में की जाने वाली भर्तियों में पांच प्रतिशत पद प्रदेश के प्रतिभावान खिलाड़ियों के लिए आरक्षित किए जाएंगे और खेल कोटे से उनमें नियुक्ति होगी. मुख्यमंत्री ने रविवार को विधानसभा के नजदीक ग्राम बरौंडा में राज्य वन अनुसंधान एवं प्रशिक्षण संस्थान के नये भवन परिसर के लोकार्पण के अवसर पर वन विभाग के इस प्रस्ताव पर अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी.

मुख्यमंत्री ने 63 हेक्टेयर के रकबे में आठ करोड़ 35 लाख रूपये की लागत से छत्तीसगढ ग़ृह निर्माण मंडल द्वारा निर्मित वन अनुसंधान एवं प्रशिक्षण संस्थान के विशाल भवन परिसर का लोकार्पण किया. पर्यावरण के अनुकूल निर्मित इस भवन में एक सौ किलोवाट के सौर ऊर्जा संयंत्र से बिजली की व्यवस्था की गयी है. संस्थान में एक पुस्तकालय, खनिज संग्रहालय और मिट्टी परीक्षण प्रयोगशाला भी स्थापित की गयी है. अगले छह माह में यहां एक सर्वसुविधायुक्त टिश्यू कल्चर लैब भी प्रारंभ की जाएगी.

कार्यक्रम में वन विभाग के नव नियुक्त 1071 वन रक्षकों का शपथ ग्रहण समारोह भी आयोजित किया गया. इस अवसर पर मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा कि लगभग 30 वर्ष बाद छत्तीसगढ़ में एक हजार से अधिक वन रक्षकों की भर्ती की गई है. वनों की रक्षा की दृष्टि से यह बहुत जरूरी था.

मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ के वनों की तीन से चार हजार वृक्षों की प्रजातियों और उनके डी.एन.ए. को संरक्षित करके रखने का काम भी इस टिश्यू कल्चर लैब के माध्यम से किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि इन कार्यों के लिए कैम्पा कोष से मदद ली जा सकती है. मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ में हाथियों का लौट कर आना इस बात का संकेत है कि हमने अपने वनों को बचाया है, यहां वनों का क्षेत्र बढ़ा है और हमारे बांस के जंगल फिर से हरे भरे हो रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *