मैं सबसे बड़ा देशभक्त- srk

नई दिल्ली | मनोरंजन डेस्क: शाहरुख खान ने ‘आप की अदालत’ में कहा कि उनसे बड़ा देशभक्त कोई नहीं है. उन्होंने कहा कि उन्हें अपनी देशभक्ति साबित करने की जरूरत नहीं है. उनके कहने का तात्पर्य है कि वे भारत के सबसे बड़े ‘फैन’ हैं. पिछले वर्ष देश में बढ़ती असहिष्णुता के मुद्दे पर बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के बयान ने राजनीतिक और सोशल मीडिया के गलियारों में हलचल उत्पन्न कर दी थी. अब उन्होंने कहा है कि भारत में उनसे बड़ा देशभक्त कोई नहीं है. हालांकि, शाहरुख का कहना है कि जब उन्हें अपनी देशभक्ति साबित करने के लिए कहा जाता है, तो वह काफी निराश और दुखी हो जाते हैं.

शाहरुख ने पिछले वर्ष नवम्बर में एक समारोह में कहा था कि धार्मिक असहिष्णुता से बुरा कुछ भी नहीं है और यह भारत को अंधेरे युग की ओर ले जाएगा.


इसके बाद जहां कई लोगों ने शाहरुख को राष्ट्रविरोधी करार दिया तो कई ने इसे राजनीतिक बयान माना. यहां तक कि कई राजनेताओं ने शाहरुख के इस बयान की निंदा की.

इंडिया टीवी पर प्रसारित हुए एक कार्यक्रम ‘आप की अदालत’ में शाहरुख ने कहा, “कभी-कभी मुझे यह जानकर काफी दुख होता है और रोना भी आता है कि मुझे इस देश की नागरिकता को साबित करना चाहिए. मैं एक देशभक्त हूं. हमें खुद को देशभक्त साबित करने के लिए एक-दूसरे से प्रतिस्पर्धा नहीं करनी है.”

शाहरुख ने आगे कहा, “मैं काफी निराश हो जाता हूं, जब मुझे हर बार अपने आप को एक अच्छा देशभक्त बताने की जरूरत पड़ती है. मैं सभी युवा नागरिकों को सहिष्णु होने, खुश रहने और राष्ट्र को आगे ले जाने के बारे में बताऊंगा.”

अभिनेता ने कहा कि छोटे और तुच्छ मामलों से देश के हित को कोई नुकसान नहीं होना चाहिए.

उन्होंने कहा, “मैं आखिरी बार यह कहना चाहता हूं और मैं इसे दुबारा नहीं दुहराऊंगा कि मुझसे बड़ा देशभक्त इस देश में दूसरा नहीं है.”

शाहरूख ने कहा कि वे अपने आप को दुनिया का सबसे अधिक गर्वित भारतीय समझते हैं. उन्होंने युवाओं को क्षेत्रवाद, धर्म, नस्ल, रंग और संप्रदाय को लेकर असहिष्णु नहीं होने की सलाह दी.

शाहरुख ने कहा, “मेरे पिता सबसे युवा स्वतंत्रता सेनानियों में से एक थे. मैं कैसे सोच सकता हूं कि यह देश किसी के लिए अनुकूल नहीं है. मेरे जैसा आदमी जिसने सबकुछ इसी महान देश से पाया है. मैं शिकायत करनेवालों में सबसे आखिरी रहूंगा.”

उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा, “मेरा परिवार अपने आप में एक मिनी भारत है. मेरी पत्नी हिन्दू है, मैं जन्म से मुस्लिम हूं और मेरे तीन बच्चे आर्यन, सुहाना, अब्रराम तीन धर्मो का अनुसरण करते हैं तो मैं कैसे अपने देश के बारे में ऐसा सोच सकता हूं.”

शाहरुख के बयान को भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ समझा गया था. हालांकि शाहरुख ने इस पर सफाई देते हुए कहा कि वे केंद्र सरकार का समर्थन करते हैं.

मनीष शर्मा की फिल्म ‘फैन’ में दोहरे किरदार में नजर आ रहे शाहरुख ने कहा कि लोगों को अपने मन में बिना किसी घृणा की भावना के आगे बढ़ना चाहिए.

शाहरुख ने कहा, “मेरी फिल्म ‘फैन’ सफल हो या नहीं, लेकिन मैं आखिरी बार इस बात को दोहराना चाहता हूं कि इस देश में मुझसे बड़ा देशभक्त कोई नहीं है.”

असहिष्णुता पर दिए बयान के लिए न केवल शाहरुख, बल्कि आमिर खान को भी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!