सीबीआई ही मेरे साथ न्याय करेगी: तारा

रांची | एजेंसी: राष्ट्रीय चैम्पियन निशानेबाज तारा सहदेव का कहना है कि सीबीआई जांच से ही सच का खुलासा हो सकता है तथा उन्हें न्याय मिल सकता है. तारा सहदेव ने प्रताड़ित कर जबरन अपना धर्म परिवर्तित कराए जाने की केंद्रीय जांच ब्यूरो से जांच करवाने की मांग की. तारा का आरोप है कि खुद को हिंदू बताकर उनसे विवाह करने वाले मुस्लिम युवक रंजीत सिंह कोहली उर्फ रकीबुल हसन ने ही उन्हें कुछ अन्य व्यक्तियों के साथ मिलकर इस्लाम कबूल करने के लिए मजबूर किया.

तारा ने बुधवार को पत्रकारों से कहा, “हम इस मामले की सीबीआई से जांच करवाए जाने की मांग करते हैं. रंजीत उर्फ रकीबुल ने अपनी चाल चलनी शुरू कर दी है, और सब कुछ उसकी योजना के अनुसार ही हो रहा है. उसकी गिरफ्तारी के बाद मामला ठंडा पड़ जाएगा. उसका मंत्रियों, पुलिस अधिकारियों और न्यायापालिका से गहरा संपर्क है. सीबीआई ही इस मामले की निष्पक्ष तफ्तीश कर सकती है और मामले का खुलासा कर सकती है.”


रंजीत उर्फ रकीबुल की गिरफ्तारी पर तारा ने खुशी जाहिर की, हालांकि उन्हें इंसाफ मिलने का पूरा भरोसा नहीं है. कुछ समाचार चैनलों पर प्रसारित वीडियो में रंजीत की मां अपने बेटे के विवाह के मौके पर कुछ पुलिस अधिकारियों के साथ नाचते हुए दिखीं.

रंजीत ने मंगलवार को कई मीडिया समूहों को ईमेल संदेश भेजकर खुद को निर्दोष बताया था और कहा था कि उसकी 80 वर्षीय मां का हाल ही में ऑपरेशन हुआ है और अभी वह उपचार ले रही हैं.

रांची पुलिस का कहना है कि उन्हें अब तक ऐसा कोई सबूत नहीं मिला है, जो रंजीत को मुस्लिम साबित करता हो.

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, “रंजीत उर्फ रकीबुल के बुधवार की रात रांची पहुंचने के बाद से अब तक उससे एक बार पूछताछ की गई. रकीबुल इस दौरान जिनका भी नाम लेगा हम उनसे भी पूछताछ करेंगे.”

सहदेव के नजदीकी सूत्रों का कहना है कि पुलिस पति द्वारा पत्नी को प्रताड़ित करने का मामला बना रही है. उनका कहना है कि पुलिस का रंजीत के घर आने-जाने वाले नेताओं, पुलिस अधिकारियों और न्याय व्यवस्था से जुड़े लोगों से पूछताछ करने का कोई इरादा नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!