दिग्विजय के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस

हैदराबाद | एजेंसी: तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के सीमांध्र क्षेत्र के विधायकों ने शनिवार को आंध्र प्रदेश विधानसभा में कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का एक नोटिस भेजा है. सीमांध्र (रायलसीमा और तटीय आंध्र) के विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष नदेंदला मनोहर के समक्ष नोटिस पेश करते हुए आरोप लगाया कि कांग्रेस नेता ने अपनी टिप्पणी से सदन के विशेषाधिकार का हनन किया है.

तेदेपा नेता जी.मुदुकृष्णमा नायडू ने दिग्विजय सिंह के उस बयान पर आपत्ति जताई जिसमें उन्होंने कहा था कि विधानसभा की कार्य मंत्रणा समिति की बैठक सोमवार को होगी और सदन में तेलंगाना विधेयक पर कोई मतदान नहीं होगा.


अध्यक्ष को नोटिस देने के बाद नायडू ने पत्रकारों से कहा, “दिग्विजय सिंह ऐसा कहने वाले कौन होते हैं. यह विशेषाधिकार हनन के दायरे में आता है.”

कांग्रेस नेता सिंह ने शुक्रवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा था कि तेलंगाना विधेयक पर बहस के बारे में फैसला लेने के लिए कार्य मंत्रणा समिति की बैठक सोमवार को होगी. तेदेपा ने यह भी जानना चाहा कि किस हैसियत से कांग्रेस महासचिव ने राज्यपाल ई.एस.एल.नरसिम्हन से मुलाकात की.

तेदेपा ने कांग्रेस के अध्यक्ष बोत्सा सत्यनारायण द्वारा दिग्विजय सिंह के लिए दोपहर भोज के आयोजन की भी आलोचना की और कहा कि वह राज्य को बांटने के लिए आए थे.

तेदेपा के एक कार्यकर्ता ने शुक्रवार को बंजारा हिल्स पुलिस स्टेशन में दिग्विजय सिंह के खिलाफ एक शिकायत दर्ज कराई कि वह लाल बत्ती लगी कार पर सवार थे. ऐसा करके उन्होंने सर्वोच्च न्यायालय के नियमों का उल्लंघन किया. पुलिस ने कहा कि उसने मामला नहीं दर्ज किया है और मामले की जांच कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!