सचिन ने ‘पिच’ छोड़ा, गांव पहुंचे

नेल्लोर | समाचार डेस्क: क्रिकेट के पिच को अलविदा कहने के बाद ‘भारत रत्न’ के नवाज़े गये सांसद सचिन तेंदुलकर ने आंध्र प्रदेश के एक गांव को गोद ले लिया है. सचिन ने गांव को गोद, प्रधानमंत्री मोदी से प्रेरित होकर लिया है. अब सचिन तेंदुलकर इस गांव के विकास पर अपना ध्यान केन्द्रीत करेंगे. जाहिर है कि इससे गांव वाले भी अत्यंत उत्साहित हैं. रविवार को क्रिकेट खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर आंध्र प्रदेश के उस गांव के दौरे पर गए, जिसे उन्होंने गोद लेने का फैसला किया है. सचिन ने पुट्टमराजुवारी कंडरिगा गांव पहुंचने के बाद यहां एक स्तंभ का अनावरण कर गांव को गोद लिया और कई विकास परियोजनाओं का शुभारंभ किया. उन्होंने गांव वालों से शराब चोड़ने की अपील भी की.

नेल्लोर के जिलाधिकारी एन. श्रीकांत, अधिकारियों और ग्रामीणों ने सचिन का गर्मजोशी से स्वागत किया.

सचिन यहां आवास, सड़क निर्माण और दूसरी विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे, जिनके लिए उन्होंने सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास योजना कोष से 2.79 करोड़ रुपये दिए.

‘सांसद आदर्श ग्राम योजना’ के तहत गांव को गोद लेने की घोषणा के बाद यह सचिन का पहला दौरा था. सचिन के आगमन को देखते हुए गांव में उत्सव जैसा माहौल था. विशेषकर युवा और बच्चों में अपने पसंदीदा क्रिकेट खिलाड़ी को देखने के लिए खासा उत्साह देखा गया.

सचिन ने यहां के किसानों, बच्चों और युवाओं के साथ मुलाकात और बातचीत की.

सचिन के दौरे को देखते हुए प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए. अधिकारियों ने दूसरे गांव के लोगों के लिए पुट्टमराजुवारी कंडरिगा में प्रवेश निषेध कर दिया. अब इस गांव के लोग उम्मीद लगाये बैठे हैं कि सचिन के आने से उनके गांव की तस्वीर सुधर जायेगी.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *