यूपी में 83 विहिप समर्थक गिरफ्तार

लखनऊ | एजेंसी: उत्तर प्रदेश में विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) की प्रस्तावित 84 कोसी परिक्रमा को लेकर राज्य की अखिलेश यादव सरकार ने कड़े तेवर दिखाए हैं. पुलिस ने इस मामले में 83 लोगों को राज्य के विभिन्न हिस्से से शुक्रवार देर रात गिरफ्तार किया है.

अपने फैसले पर दृढ़ विहिप की तैयारियों को देखते हुए अयोध्या और फैजाबाद को छावनी में तब्दील कर दिया गया है. .

राज्य के मुख्य सचिव जावेद उस्मानी ने शुक्रवार देर शाम 84 कोसी परिक्रमा के अंतर्गत आने वाले सभी छह जिलों के जिलाधिकारियों एवं पुलिस अधीक्षकों के साथ बैठक कर हालात का जायजा लिया था और अधिकारियों को कड़े दिशा निर्देश दिए थे.

इस अहम बैठक में राज्य के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) अरुण कुमार और पुलिस महानिदेशक देवराज नागर भी मौजूद थे.

नागर ने कहा कि यात्रा पर रोक लगाई गई है और किसी भी स्थिति में इसे शुरू नहीं करने दिया जाएगा और जबरन यात्रा करने वालों को गिरफ्तार किया जाएगा.

राज्य के शीर्ष अधिकारियों के दिशानिर्देश का पालन करते हुए पुलिसकर्मियों ने देर रात विहिप के 83 संतों एवं कार्यकर्ताओ को गिरफ्तार किया. पुलिस के मुताबिक अयोध्या जाने के दौरान चित्रकूट के 17 संतों को फतेहपुर में और राजस्थान से आए 66 संतों एवं कार्यकतरओ को आगरा में गिरफ्तार किया गया.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि अयोध्या में बड़ी संख्या में साधु-संतों के पहुंचने की आंशका को देखते हुए कुल 38 अस्थाई कारवास बनाया गया है. फैजाबाद में 10, बराबंकी में 12, बहराइच में छह, बस्ती में दो, गोंडा में तीन और अम्बेडकरनगर में पांच अस्थाई कारावास बनाए गए हैं.

साधू-संतों की गिरफ्तारी के बाद राज्य का माहौल गर्म हो गया है. विहिप के मीडिया प्रभारी शरद शर्मा ने कहा कि यात्रा अपने तय समय पर 25 अगस्त को ही शुरू होगी और इसमें किसी तरह का बदलाव नहीं किया गया है.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *