छत्तीसगढ़ में निवेश करेगा अमरीका, चीन

रायपुर | समाचार डेस्क: अमरीका और चीनी कंपनियों तथा उद्योग समूहों ने छत्तीसगढ़ में विभिन्न क्षेत्रों में निवेश को लेकर अपनी रुचि प्रकट की है. अमरीकी काउंसलर जनरल टॉम वाजदा के नेतृत्व में अमरीकी चेम्बर ऑफ कॉमर्स तथा यूएस. इंडिया बिजनेस काउंसिल के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से मुंबई में चर्चा के दौरान यह बात कही.

मेक इन इंडिया, मुंबई के तहत निवेशकों को ‘मेक इन छत्तीसगढ़’ के लिए आमंत्रित करने के लिए मुंबई में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने सोमवार को लगातार दूसरे दिन निवेशकों से चर्चा की. मुख्यमंत्री ने दोनों प्रतिनिधिमंडलों को आश्वस्त किया कि छत्तीसगढ़ में उन्हें अपने उद्योग लगाने के लिए हर संभव सहयोग दिया जाएगा.

इस दौरान छत्तीसगढ़ के उद्योग और वाणिज्य मंत्री अमर अग्रवाल, छत्तीसगढ़ औद्योगिक विकास निगम के अध्यक्ष छगन मूंदड़ा और मुख्य सचिव विवेक ढांड भी उपस्थित थे.

अमरीकी प्रतिनिधिमंडल ने छत्तीसगढ़ में सड़क, रेलवे स्टेशन के आधुनिकीकरण, एयरपोर्ट, वेयर हाउस, कृषि उत्पादों के रेफ्रीजरेशन कर उन्हें देश में अन्य स्थानों पर भेजने, नया रायपुर में वाटर और सीवरेज ट्रीटमेंट, सूचना प्रौद्योगिकी और स्टार्टअप सेक्टर में निवेश के लिए रुचि दिखाई.

मुख्य सचिव विवेक ढांड, प्रमुख सचिव सूचना प्रौद्योगिकी अमन कुमार सिंह, नया रायपुर डेवलपमेंट अथॉरिटी के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रजत कुमार और चिप्स के मुख्यकार्यपालन अधिकारी सौरभ कुमार ने अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल को छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा उद्योगों को दी जा रही सुविधाओं की जानकारी दी.

उन्होंने बताया कि सूचना प्रौद्योगिकी और मोबाइल मैन्यूफेक्च रिंग इकाइयों के लिए राज्य शासन नि:शुल्क भूमि उपलब्ध कराएगा. अधिकारियों ने प्रतिनिधिमंडल की निवेश के संबंध में जिज्ञासाओं का भी समाधान किया.

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने दो दिनों में 50 से अधिक निवेशकों से चर्चा की और उन्हें निवेश के लिए आमंत्रित किया, इनमें लैंको सोलर के प्रबंध निदेशक राजकुमार राय, आईटीसी लिमिटेड के डायरेक्टर संजीव पुरी, किर्लोस्कर के अध्यक्ष संजय किर्लोस्कर, रुचि सोया के आवेश जैन, आटोडेस्क के प्रदीप नैय्यर, हीरानंदानी ग्रुप के दर्शन हीरानंदानी, प्रसिद्ध वास्तुविद हफीज कांट्रेक्टर, रोज ऑडियो विजुवल के गोल्डी बहल, सुगल एवं दमानी ग्रुप के प्रवीण छेड़ा, पी संस के प्रदीप अग्रवाल, विश्वराज इन्फ्रास्ट्रक्चर के अरुण लखानी तथा जीईपीएल कैपिटल के विवेक गुप्ता शामिल थे.

मुख्यमंत्री से प्रसिद्ध फिल्म निर्माता रमेश सिप्पी और सुभाष घई ने भी भेंट कर उनसे छत्तीसगढ़ में फिल्म निर्माण और फिल्म सिटी तथा फिल्म इंस्टीट्यूट की संभावनाओं पर चर्चा की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *