अमरीका ने किया था चीन में हैकिंग

हांगकांग: अमरीका ने चीन के इंटरनेट एक्सचेंज को अपने निशाने पर रखा था और आशंका है कि उसे हैक भी किया गया था. अमरीका की जासूसी संस्था सीआईए के एक कर्मचारी एडवर्ड स्नोडेन ने यह राज खोला है. उन्होंने दावा किया कि अमरीका की सरकार पिछले कई साल से हांगकांग और चीन में कंप्यूटरों को हैक करता रहा है.

इधर चीन की विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ च्यूनिंग ने कहा है कि हमारे पास इस बात की कोई जानकारी नहीं है कि एडवर्ड स्नोडेन कहां हैं. मंत्रालय च्यूनिंग के अनुसार चीन ने सबसे ज्यादा हैकिंग हमले झेले हैं. ऐसे में यह राज बताता है कि अमरीका किस तरह की हरकतें करता रहा है. यह बेहद खतरनाक और चिंताजनक जानकारी है.

दूसरी ओर विकिलीक्स के जूलियन असांज ने एडवर्ड स्नोडेन को अपनी जान बचाने के लिये सलाह दी है कि वह रूस या दक्षिण अमेरिका में राजनीतिक पनाह लेने की कोशिश करें, क्योंकि रूस यह कह चुका है कि अगर स्नोडेन पनाह के लिए अर्जी देते हैं उस पर विचार किया जाएगा. असांजे ने कहा कि मेरा मानना है कि स्नोडेन के लिए यह बेहतर होगा कि वह रूस के इस ऑफर पर गौर करें. उन्हें दक्षिण अमेरिका से भी इसी तरह का ऑफर हासिल करने की कोशिश करनी चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *