ढांढ रेरा के अध्यक्ष, अजय सिंह छत्तीसगढ़ के मुख्य सचिव

रायपुर। डेस्क: छत्तीसगढ़ के मुख्य सचिव के रूप में रिकॉर्ड पारी खेलने के बाद विवेक ढांड ने गुरुवार को स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली. उन्होंने रेरा के अध्यक्ष का पद हासिल कर लिया है. वे आस्ट्रेलिया जाना चाहते थे, मगर सरकार नहीं चाहती थी कि फिलहाल वे बाहर जाएं, लिहाजा उनका िटकट कैंसिल करवाकर रेरा जैसे अत्यंत महत्वपूर्ण स्थान की जिम्मेदारी दी गई है. विवेक ढांढ मार्च वे रिटायर होने वाले थे. अब वे रीयल एस्टेट रेगुलेटरी अथारिटी (रेरा) के पहले अध्यक्ष बनेंगे. उनके स्थान पर अपर मुख्य सचिव अजय सिंह मुख्य सचिव बनाया गया है. विवेक ढांढ 1981 बैच के हैं. फरवरी 2014 में उन्होंने सीएस का काम संभाला था. वे स्थानीय होने के साथ साथ छत्तीसगढ़ के पहले मुख्य सचिव हैं, जिन्होंने इतनी लंबी पारी खेली है. अजय सिंह 1983 बैच के आईएएस हैं. वे अक्टूबर 2013 से कृषि विभाग की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं. अजय को मुख्य सचिव के रूप में काम करने के लिए दो साल का समय मिलेगा. 2020 में वे रिटायर हो जाएंगे. ढांढ की ही तरह अजय सिंह भी छत्तीसगढ़ से ही हैं.
विवेक ढांढ से पहले अरुण कुमार, सुयोग्य कुमार मिश्रा, ए के विजयवर्गीय, आर पी बगई, शिवराज सिंह, पी जॉय उम्मेन, सुनील कुमार मुख्य सचिव रहे.रेरा में ढांढ को अध्यक्ष तो बना दिया दिया है लेकिन सदस्यों की नियुक्ति अभी नहीं की गई है. लिहाजा इसके लिए समय लगेगा. हालांकि ढांड को रेरा का अध्यक्ष बनाने का मतलब है िक रेरा में उनकी पसंद के अफसर ही शामिल होंगे. अब बात करें वरिष्ठ आईएएस अफसर अजय सिंह की.
नए मुख्य सचिव अजय सिंह अविभाजित मध्यप्रदेश में 1976 हायर सेकेण्डरी बोर्ड के टॉपर रहे हैं. वे अजय सिंह मुंगेली जिले के पथरिया विकासखंड के बेलखुरी गांव के निवासी हैं. अजय सिंह मध्यप्रदेश हायर सेकेण्डरी बोर्ड परीक्षा साल 1976 में पूरे मध्यप्रदेश में टॉप पर रहे. इसके बाद उन्होंने भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, नई दिल्ली में प्रवेश लिया और एमटेक पूरा किया. उन्होंने ने साल मैनचेस्टर यूनिवर्सिटी ब्रिटेन से अर्थशास्त्र में एमए भी किया है.
साल 2000 से छत्तीसगढ़ में दे रहे हैं अपनी सेवाएं
जब मध्यप्रदेश का विभाजन कर छत्तीसगढ़ राज्य का गठन हुआ, तब वे भी छत्तीसगढ़ में आ गए. उन्होंने कई अहम पदों पर अपनी सेवाएं दी. उनकी पत्नी डॉक्टर आभा सिंह रायपुर मेडिकल कॉलेज में डीन हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!