वक्फ बोर्ड के कार्यक्रम में पीएम का विरोध

नई दिल्ली | एजेंसी: वक्फ विकास निगम के एक कार्यक्रम में बुधवार को प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को अपने भाषण के दौरान एक व्यक्ति के विरोध का सामना करना पड़ा. विरोध करने वाले सज्जन एम.फहीम बेग ने कहा कि जब सरकार की किसी भी मौजूदा योजना का लाभ आम जनता को नहीं मिल रहा है तो फिर नई योजनाएं लागू करने की क्या जरूरत है.

नेशनल वक्फ डेवलंपमेंट कार्पोरेशन लिमिटेड (एनएडब्ल्यूएडीसीओ) के लांच के अवसर पर प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय के सशक्तीकरण के लिए और कदम उठाए जाएंगे. प्रधानमंत्री ने जैसे ही अपना भाषण समाप्त किया, बेग अपनी सीट से उठ खड़े हुए और उन्होंने चिल्ला कर कहा कि सरकार की किसी भी योजना का लाभ आम जनता तक नहीं पहुंच रहा है.

विज्ञान भवन में आयोजित इस कार्यक्रम में बेग ने मंच पर बैठे मनमोहन सिंह, सोनिया गांधी सहित दूसरे गणमान्य लोगों को संबोधित करते हुए कहा, “जब सरकार पहले से लागू कल्याणकारी योजनाओं का क्रियान्वयन ही सही तरीके से नहीं करा पा रही है, तो नई योजनाएं लागू करने की क्या जरूरत है?”

सम्मेलन कक्ष से बाहर निकाले जाने से पहले बेग ने कहा, “मैं अब तक डेढ़ सौ पत्र आपको लिख चुका हूं, लेकिन मेरी बात सुनी नहीं जा रही.”

प्रधानमंत्री ने बाद में अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री के. रहमान खान से बेग से मिलकर उनकी बात सुनने और उनकी याचिका पर गौर करने को कहा.

एनएडब्ल्यूएडीसीओ अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय के अंतर्गत केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र का एक नया उपक्रम है, जो देश में 4.9 लाख वक्फ संपति के विकास के लिए काम करेगा. वक्फ संपति से अर्जित आय का उपयोग मुस्लिम समुदाय के कल्याण में किया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *