युद्ध किसी समस्या का विकल्प नहीं: शाहबाज़ शरीफ

नई दिल्ली | एजेंसी: पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के छोटे भाई शहबाज शरीफ ने कहा है कि समस्याग्रस्त सीमा पर शांति स्थापित करने के लिए दोनों देशों के सैन्य संचालन महानिदेशकों की बैठक होने से पाकिस्तान को खुशी होगी.

पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) में दूसरे नंबर के नेता की हैसियत रखने वाले शहबाज शरीफ ने कहा कि पाकिस्तानी सेना और सरकार भारत के साथ शांति स्थापित करने की इच्छा रखते हैं.


शहबाज ने हेडलाइंस टुडे समाचार चैनल से बातचीत में इस बात पर जोर दिया कि पाकिस्तान सरकार ने नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम के उल्लंघन के मामलों की तीसरे पक्ष से जांच कराने का प्रस्ताव रखा था. लेकिन भारत ने इस प्रस्ताव को खारिज कर दिया था.

शहबाज ने कहा कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से वार्ता के दौरान गुरुवार सुबह उन्होंने कहा कि दोनों देशों के डीजीएमओ की बैठक यथासंभव शीघ्र होनी चाहिए और पाकिस्तान इस बैठक की मेजबानी करके खुश होगा.

शरीफ ने कहा कि यदि भारत तैयार हो तो वह डीजीएमओ की बैठक के लिए तैयार हैं, और सीमा पर संघर्ष विराम का उल्लंघन दुर्भाग्यपूर्ण है.

भारतीय पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के निमंत्रण पर भारत आए शरीफ ने कहा कि दोनों देशों को अपना अतीत भुलाना होगा और आपसी विश्वास के माध्यम से सभी मुद्दे सुलझाने होंगे.

शहबाज शरीफ ने यह भी कहा कि दो परमाणु संपन्न देशों के बीच युद्ध कोई विकल्प नहीं है. एकमात्र रास्ता दोनों देशों का वार्ता की मेज पर धैर्यपूर्वक आना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *