महासमुंद में महिलाओं का राज

छत्तीसगढ़ के महासमुंद में महिलाओं का हुकूमत चलती है. जिले में अधिकांश बड़े पदों पर महिलायें हैं. जिला जज के पद पर एक महिला कार्यरत हैं तो कलेक्टर और एसपी के पदों पर भी महिलायें काबिज हैं. जिला पंचायत की सीईओ और जनसंपर्क अधिकारी के पद पर भी महिलाएं ही कार्यरत हैं और तो और राज्य की एक मात्र जिला आबकारी अधिकारी के पद पर भी महिलाएं ही कार्यरत हैं. जिला पंचायत अध्यक्ष के साथ-साथ महिला एवं बाल विकास अधिकारी के पद पर भी महिला ही कार्यरत हैं.

छत्तीसगढ़ के लिंगानुपात 991 की तुलना में महासमुंद जिले में प्रति हजार पुरुषों पर 1018 महिलायें हैं और आज की तारीख में इस जिले के हरेक क्षेत्र में महिलाओं का प्रतिनिधित्व भी नजर आता है.


महासमुंद के जिला एवं सत्र न्यायाधीश के पद पर अनुराधा खरे कार्यरत हैं तो कलेक्टर पद की कमान आर संगीता के हाथों में है. जिले की एस पी हैं नीतू कमल और जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालक अधिकारी हैं शिखा राजपूत तिवारी. जिला पंचायत अध्यक्ष के पद पर सरला कोसरिया कार्यरत हैं तो महिला एवं बाल विकास अधिकारी पद पर प्रियंका ठाकुर हैं. जिला आबकारी अधिकारी के पद पर नीतू नोतानी कार्यरत हैं तो डीपीआरओ की कमान इस्मत जहां दानी के हाथ में है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!