छत्तीसगढ़: माइंस दुर्घटना, श्रमिक की मौत

मनेन्द्रगढ़ | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में SECL माइंस में दुर्घटना होने के एक श्रमिक की जान चली गई. शनिवार को एसईसीएल की लटोरी स्थित नवापारा अंडरग्राउंड माइंस में किये गये ब्लॉस्ट से वहां की छत गिर गई. जिसमें दबकर एक श्रमिक मैकू की मौके पर ही मौत हो गई है. एसईसीएल प्रबंधन ने घटना के लिये जिम्मेदार माइनिंग सरदार सहित दो को निलंबित कर दिया है.

मिली जानकारी के अऩुसार स्टिंग से पहले जिम्मेदार अधिकारी ने यह नहीं देखा गया कि मृतक बगल में ड्रेसिंग का काम कर रहा है. जैसे ही पैनल के दूसरी ओर ब्लास्टिंग हुई कोयले का बड़ा टुकड़ा व मलबा उसके ऊपर आ गिरा. गंभीर चोट लगने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई.


इस मामले में माइनिंग सरदार की लापरवाही की बात सामने आ रही है. कोयला खदान के भीतर सुरक्षित ब्लास्टिंग का जिम्मा उसी का रहता है. जहां ब्लास्टिंग की जाती है वहां ड्रेसर का कोई काम नहीं रहता. यदि माइनिंग सरदार द्वारा ब्लास्ट से पहले उस पैनल की अच्छे तरीके से जांच की गई होती तो शायद यह हादसा नहीं होता और ड्रेसर की जान नहीं जाती.

गौरतलब है कि इसी साल फरवरी माह में साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड लिमिटेड के मनेन्द्रगढ़ के हसदेव एरिया के बहेराबांध भूमिगत कोयला खदान में छत गिरने से 3 श्रमिकों की मौत हो गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!