मुख्यमंत्री के खिलाफ खड़े हुये उनके ही मंत्री

रांची | संवाददाता: मुख्यमंत्री के खिलाफ अगर उनका ही मंत्री ताल ठोकने लग जाये तो हालत क्या होगी. झारखंड में यही हो रहा है. झारखंड सरकार के वरिष्ठ मंत्री सरयू राय ने अपनी टिकट काटे जाने के बाद अपनी सीट जमशेदपुर पश्चिम से तो चुनाव लड़ने की घोषणा की है, इसके अलावा वे सीएम रघुवर दास की सीट जमशेदपुर पूर्वी से भी चुनाव लड़ेंगे. सरयू राय के इस कदम के बाद भाजपा सकते में है.

सरयू राय ने कहा कि सबके सलाह के साथ काम करना चाहिए, इसलिए आप सबके सामने मैं हाजिर हूं. अब दोनों सीटों पर मैं चुनाव लड़ूंगा, मैंने कार्यकर्ताओं से कहा है कि पूर्वी में मैं समय दूंगा तो पश्चिमी में आपको काम करना होगा.


उन्होंने कहा कि,पश्चिम के कार्यकर्ताओं का कहना है कि इस सीट को किसी दरिंदे या लूटेरे के हवाले नहीं छोड़ना चाहिए, इसलिए कार्यकर्ताओं ने कहा कि इसलिए आप इस क्षेत्र से भी नॉमिनेशन करिये और चुनाव लड़िए.

सरयू ने कहा कि उन्होंने पार्टी से आजतक कुछ नहीं मांगा. उनका टिकट रोक कर रखे जाने से बहुत बुरा लगा. उन्होंने कहा कि वे सरकार में पांच साल कैबिनेट मंत्री रहे. जहां गलत हुआ, उन्होंने खुलकर इसका विरोध किया.

गौरतलब है कि कांग्रेस पार्टी ने भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा से ट्रिलियन में जीरो पूछ सुर्खियों में आए प्रोफेसर गौरव वल्लभ को टिकट दिया है, जो भाजपा प्रत्याशी और प्रदेश के मुख्यमंत्री रघुबर दास के खिलाफ जमशेदपुर ईस्ट से चुनाव लड़ेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!