यह गब्बर सिंह टैक्स है-राहुल गांधी

गांधीनगर | डेस्क: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांघी ने जीएसटी को गब्बर सिंह टैक्स बताते हुये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है. गांधीनगर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि गुजरात में 30 हजार लोग रोजगार ढूंढने रोज निकलते हैं. लेकिन नरेंद्र मोदी सरकार सिर्फ 400 लोगों को रोजगार देती हैं.

राहुल गांधी ने कहा कि आप इस जनता को शांत रहने के लिए कहते हैं कि लेकिन अब यह शांत नहीं रहेंगे. अल्पेश ठाकोर की ओर इशारा करते हुये राहुल गांधी ने कहा कि इस आवाज को दबाया नहीं जा सकता है और न खरीदा जा सकता है, यह गुजरात की आवाज है, इसे पूरी दुनिया के पैसे से नहीं खरीदा नहीं जा सकता है.


राहुल गांधी ने कहा कि गांधी जी की आवाज को भी अंग्रेजों ने दबाने की कोशिश की थी. लेकिन उन्होंने सुपरपावर को भगा दिया. मोदी जी, इसकी कोई कीमत नहीं है.

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि मोदी जी मन की बात कहते हैं कि लेकिन आज में मोदी जी को गुजरात की दिल की बात कहना चाहता हूं कि गुजरात के युवा शिक्षा चाहते हैं. लेकिन गुजरात के विश्वविद्यालयों को उद्योगपतियों के हाथों सौंप दिया है.

प्रधानमंत्री की नीतिओं को कटघरे में खड़ा करते हुये राहुल गांधी ने कहा कि टाटा को नैनो के लिए 35 हजार करोड़ रुपया दिया, उससे किसानों का कर्ज माफ हो सकता था. लेकिन मोदी जी बताएं कि उन पैसों से कितनी नैनो बनीं.

अमित शाह के बेटे का मुद्दा उठाते हुए कहा था कि पीएम मोदी ने अमित शाह के बेटे के बारे में एक भी शब्द नहीं बोला. मोदी जी कहते थे कि न खाउंगा, न खाने दूंगा. अब तो खिलाना शुरू कर दिया.

जीएसटी को लेकर तंज कसते हुये उन्होंने कहा कि जेटली जी और मोदी जी कहते हैं कि कांग्रेस की बात जीएसटी पर नहीं सुनेंगे. इनका जो जीएसटी है, यह जीएसटी नहीं, यह ‘गब्बर सिंह टैक्स’ है. पूरे देश की इकॉनमी को मोदी जी ने चौपट कर दिया है. जीएसटी कांग्रेस की सोच है और इसके पीछे सोच समझिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!