नक्सल समस्या से निपटने 5 बटालियन और

नई दिल्ली | संवाददाता: नक्सल समस्या से निपटने के लिये पांच नई बटालियन बनाई जा सकती है.छत्तीसगढ़ में इन सभी बटालियन की तैनाती की जायेगी. खबर है कि विशेष सुरक्षा सलाहकार के विजय कुमार ने बस्तर दौरे के बाद इस आशय का प्रस्ताव केंद्र सरकार के लिये तैयार किया है. हालांकि इसकी पुष्टि नहीं की गई है लेकिन माना जा रहा है कि आज की बैठक में इस पर फैसला हो सकता है.

इधर सोमवार को दिल्ली में नक्सलियों से लड़ने की नई रणनीति पर मंथन होगा.नक्सल समस्या से प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्री और शीर्ष अधिकारी इस विशेष बैठक में शामिल होंगे. इस बैठक में दस राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल होंगे. बैटक में शामिल होने के लिये छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह पहले ही दिल्ली पहुंच चुके हैं.इसके अलावा छत्तीसगढ़ के मुख्य सचिव विवेक ढांढ आठ जिलों के कलेक्टर और एसपी भी इस बैठक में शामिल होने के लिये दिल्ली पहुंचे हैं.


छत्तीसगढ़ के सुकमा में माओवादियों के हमले में 25 जवानों के मारे जाने के बाद केंद्र सरकार ने इस बैठक का आयोजन किया है. गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने रायपुर में रहते हुये जो तेवर दिखाये हैं, उससे लगता है कि सरकार इस समस्या को आर या पार जैसी मुद्रा में निपटाने की इच्छाशक्ति रखती है. ऐसे में सोमवार की बैठक को फैसलों के लिहाज से निर्णायक माना जा सकता है.

हालांकि नक्सलियों से लड़ने में एक बड़ी परेशानी सुरक्षाबलों और स्थानीय फोर्स में तालमेल को बताया जाता है, जिसे ले कर रायपुर में आयोजित बैठक में सुरक्षा सलाहकार के विजय कुमार अपनी नाराजगी जता चुके हैं.इसके अलावा दूसरे राज्यों के साथ तालमेल भी एक बड़ा सवाल है.इस मुद्दे पर भी राज्य सरकार के आला पुलिस अधिकारी केंद्र की आलोचना के शिकार बने हैं.

तेलंगाना और आंध्र प्रदेश की तर्ज पर छत्तीसगढ़, ओडिशा और झारखंड में नक्सलियों के खिलाफ संयुक्त अभियान भी इस बैठक का एक मुद्दा हो सकता है. क्योंकि कई ्वसरो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!