राहुल गांधी ने संभाली कांग्रेस, मोदी पर बोला हमला

नई दिल्ली | संवाददाता: राहुल गांधी ने कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष का पद संभालते ही नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा पर प्रहार करते हुये राहुल गांधी ने कहा कांग्रेस भारत को 21वीं सदी में लेकर आई और पीएम नरेंद्र मोदी हमें मध्यकाल में ले जा रहे हैं. राहुल ने कहा कि इस समय मोदी खुद ही पूरे देश की अकेली आवाज़ बन बैठे हैं और सारी योग्यताएं और विशेषज्ञताओं को दरकिनार कर बस अपनी ही छवि बना रहे हैं.

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि एक बार आग लगने के बाद उसे बुझाना बहुत मुश्किल होता है. भाजपा ने पूरे देश में आग लगा दी. राहुल ने कहा कि वो आग लगाते हैं, हम आग बुझाते हैं. राहुल ने कहा कि कांग्रेस ने भारत को 21वीं सदी का देश बनाया, जबकि प्रधानमंत्री उसे पीछे मध्ययुग में ले जा रहे हैं जहां लोगों की इसलिए बर्बर हत्याएं कर दी जाती थीं क्योंकि वो दूसरों से अलग थे. पीटा जाता था क्योंकि वो अलग मान्यता रखते थे और अलग खानपान के लिए मार डाला जाता था.


राहुल ने कहा कि ये घिनौनी हिंसा हमें दुनिया में शर्मिंदा करती है. इस देश का ऐतिहासिक रूप से दर्शन रहा है प्यार और संवेदना, लेकिन इस डर से उस पर धब्बा लग गया है. इस महान देश को क्षति हुई है उसे कोई भी सहानुभूति पूरा नहीं कर सकती.

उन्होंने कहा कि अगर कोई भाजपा को यह करने से रोक सकता है तो वह हैं कांग्रेस के कार्यकर्ता और नेता. हम कांग्रेस को ग्रैंड ओल्ड पार्टी एंड यंग पार्टी बनाएंगे और गुस्से की राजनीति के खिलाफ लड़ाई लड़ेंगे. राहुल ने कहा कि हम भाजपा को भाई-बहन ही मानते हैं, लेकिन हम उनसे सहमत नहीं हैं. भाजपा आवाज को कुचल देती है, लेकिन हम बोलने का मौका देते हैं.

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि आज राजनीति से बहुत लोग निराश हैं क्योंकि आज इसका इस्तेमाल लोगों को मजबूत बनाने की बजाय उन्हें दबाने के लिए किया जा रहा है. आज की राजनीति पूरी तरह करुणा और सत्य से खाली हो चुकी है.

राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाये जाने के अवसर पर बोलते हुये पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि अब जबकि सोनिया जी ने पार्टी की कमान राहुल गांधी को सौंप दी है तो मैं सोनिया जी को उनके 19 साल के नेतृत्व के लिए सलाम करता हूं. राहुल गांधी पार्टी में नई समर्पण और प्रतिबद्धता लाए हैं. मुझे उम्मीद है कि पार्टी सफलता की नई ऊंचाइयों को छुएगी.

कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष रही सोनिया गांधी ने अपने बेटे को कांग्रेस अध्यक्ष बनाये जाने पर कहा-“आज मैं आखिरी बार कांग्रेस अध्यक्ष के तौर पर आपको संबोधित कर रही हूं. एक नए दौर की उम्मीद आपके सामने है.”

सोनिया गांधी ने कहा कि इंदिरा गांधी ने मेरे साथ बेटी की तरह व्यवहार किया और मैंने भारत के बारे में उनसे काफी कुछ सीखा. उन्होंने कहा कि 1984 में इंदिरा गांधी की हत्या कर दी गई और मुझे लगा कि मैंने अपनी मां खो दी है. इस हादसे ने मेरी जिंदगी बदलकर रख दी. सोनिया ने कहा कि हम डरने और झुकने वालों में से नहीं हैं. हमारा संघर्ष इस देश की रुह के लिए संघर्ष है. हम पीछे नहीं हटेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!